हमारे लिए ऊर्जा के परम-स्रोत...

Monday, 25 February 2013


तुम्हारी याद

   
                           देतीं दस्तक
                           मस्तिष्क-पटल पे
                           तेरी वो यादें            
                                     ***

                          कीमती मोती
                          ह्रदय की सीप में
                          तुम्हारी याद  
                                  ***

                          खिले कमल
                          मन के सरोवर
                          तेरी यादों के  
                                  ***

                          हों चाहे जैसी
                          ना कटता जीवन
                         यादों के संग   
                                    *** 

                          तुम्हारी यादें
                          चंदन-सी महकें
                          मेरे मन में      
                                 ***


                         हुआ जीवंत
                         अतीत का टुकड़ा
                         बन के याद    
                                  ****


12 comments:

  1. khubsurat haiku....saari yaadon se juri hui..
    behtareen. :)

    ReplyDelete
  2. बहुत ही सुन्दर हैकू की प्रस्तुति,सादर आभार.

    ReplyDelete
  3. मंगलवार 12/03/2013 को आपकी यह बेहतरीन पोस्ट http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जा रही हैं .... !!
    आपके सुझावों का स्वागत है .... !!
    धन्यवाद .... !!

    ReplyDelete
  4. सार्थक और सुंदर रचना .....
    आप भी पधारो स्वागत है ...
    http://pankajkrsah.blogspot.com

    ReplyDelete

  5. सादर जन सधारण सुचना आपके सहयोग की जरुरत
    साहित्य के नाम की लड़ाई (क्या आप हमारे साथ हैं )साहित्य के नाम की लड़ाई (क्या आप हमारे साथ हैं )

    ReplyDelete

आपकी प्रतिक्रिया हमारा उत्साहवर्धन और मार्गदर्शन करेगी...